कप्तानी मिलते ही M.S Dhoni के इन 2 दोस्तों को रोहित शर्मा ने संन्यास लेने पर किया मजबूर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान M.S Dhoni ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान ऐसा कोई भी किताब नहीं छोड़ा, जिसे वह हासिल न कर सके हो। साल 2007 के टी20 वर्ल्ड कप से लेकर साल 2011 के एकदिवसीय वर्ल्ड कप के खिताब तक को हासिल करने वाले वह इकलौते कप्तान रहे हैं। उन्होंने अपनी कप्तानी के दौरान कई युवा खिलाड़ियों को जमीन से आसमान तक पहुंचाया है। इन्हीं खिलाड़ियों में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा का नाम भी शामिल है।

साल 2007 के टी20 वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा भारत की तरफ से नंबर 6 पायदान पर खेलते थे, लेकिन धोनी ने रोहित की किस्मत ही पलट कर रख दी। रोहित शर्मा भारत के सबसे सफल ओपनर बल्लेबाजों के साथ-साथ भारतीय टीम के कप्तान भी हैं। लेकिन हिटमैन अपनी प्लेइंग इलेवन से उन्हीं खिलाड़ियों को नजरअंदाज कर रहे हैं, जो धोनी के खास करीबी दोस्त हुआ करते थे।

ईशांत शर्मा

भारतीय टीम के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ‌अपनी बेहतरीन गेंदबाजी के लिए जाने जाते हैं। भारत के कई अहम मुकाबलों के दौरान यह गेंदबाज बेहतरीन और शानदार भूमिका निभाते नजर आए हैं। ईशांत शर्मा भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सबसे चहेते गेंदबाजों में शामिल हैं। जिन्होंने वनडे, टी-20 और टेस्ट क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में खेला है। लेकिन जब से रोहित शर्मा ने कप्तानी का पद संभाला है, तबसे इशांत शर्मा को लगातार टीम से बाहर ही रखा जा रहा है। भारत के लिए वह वनडे में 85, टी20 में 14, और टेस्ट में 105 मैच खेलने में कामयाब रहे। इसके साथ साथ उन्होंने इस दौरान 8, 115 और 311 विकेट भी झटके हैं।

भुवनेश्वर कुमार

मेरठ के रहने वाले तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार गेंद को पिच के दोनों तरफ स्विंग कराने की क्षमता रखते हैं, जोकि T20 वर्ल्ड कप के बाद से टीम इंडिया से बाहर चल रहे हैं। उनका क्रिकेट करियर बेहद शानदार रहा है। उन्होंने धोनी की कप्तानी के दौरान भारतीय टीम के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया है। साल 2013 की चैंपियन ट्रॉफी मैं जीत दिलाने में भी उन्होंने अपना महत्वपूर्ण योगदान निभाया है।

वहीं साल 2019 के वर्ल्ड कप में भारत न्यूजीलैंड से हार कर वह सेमीफाइनल मुकाबले से बाहर हो गए थे। तीनों प्रारूपों में भुवनेश्वर कुमार ने भारतीय टीम के लिए बेहद शानदार गेंदबाजी की है। इसके साथ-साथ उन्होंने टेस्ट में 21, वनडे में 121, और T20 में क्रमशः 87 मैच खेले हैं। इसके साथ ही उन्होंने 63, 141 और 90 विकेट भी चटकाए हैं। लेकिन रोहित की कप्तानी के दौरान उन्हें लगातार भारतीय टीम से बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है।

Read Also:-IND vs SL 3rd: रविवार को भारत से होगा श्री लंका का सामना, जानिए कब, कहां देख सकते है मुकाबला साथ ही दोनों की प्लेइंग 11

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *