भारत और बांग्लादेश के बीच घटित 5 सबसे विवादित घटनांए, जब खिलाड़ी पार कर गए बेशर्मी की हदें

BAN vs IND : 4 दिसंबर 2022 से शुरू होने वाली तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज भारतीय क्रिकेट टीम बांग्लादेश में खेलने जा रही है। इसके बाद दो मैचों की टेस्ट सीरीज भी खेली जाएगी। T20 वर्ल्ड कप 2022 के बाद पहली बार टीम इंडिया को दिग्गज रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल के साथ खेलते देखा जाएगा। इससे पहले यह युवा दल न्यूजीलैंड दौरे पर मौजूद था। भारत T20 श्रृंखला जीतने में कामयाब रहा, लेकिन अपने वरिष्ठ खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में एकदिवसीय सीरीज जीतने में नाकाम साबित हुआ।

सभी बड़े बड़े खिलाड़ी इस सीरीज में मौजूद होंगे मुकाबला और भी अधिक रोमांचक हो सकेगा। बांग्लादेश और भारत हमेशा से ही एकदिवसीय प्रारूप में एक दूसरे के साथ खेलने का आनंद उठाता रहा है। अब तक इन दोनों टीमों के बीच कई विवादित घटनाएं भी घट चुकी है, जिन्होंने अपने प्रशंसकों को अपना दीवाना बना दिया। आज इस आर्टिकल के जरिए हम ऐसे पांच घटनाओं के बारे में बताएंगे।

2015 वर्ल्ड कप में नो – बॉल विवाद

साल 2015 में भारत 50 ओवर के विश्व कप में दूसरे क्वार्टर फाइनल में बांग्लादेश को हराने में कामयाब रहा। पहले टॉस जीतकर भारत ने बल्लेबाजी को चुना, फिर 50 ओवर में छह विकेट पर भारतीय टीम 302 रन बनाने में कामयाब रही। वही जवाब में 45 ओवर में 193 रनों पर बांग्लादेश की टीम ढेर हो गई। लेकिन भारत की पारी के दौरान एक गंभीर घटना घटित हो गई।

40 ओवर में रुबेल हुसैन द्वारा गेंदबाजी की जा रही थी, जबकि रोहित शर्मा बल्लेबाजी पर डटे हुए थे। तभी बांग्लादेश के तेज गेंदबाज द्वारा कमर तक फुल – टॉस फेंकी गई। जहां रोहित शर्मा ने फुल किया, वहीं फील्डर ने डीप स्क्वायर लेग पर कैच पकड़ा। हालांकि अंपायर के द्वारा इसे नो बॉल करार दिया गया, लेकिन रिप्ले के दौरान दिखाया गया कि यह एक बहुत मामूली कॉल थी, रोहित शर्मा 137 रन बनाने में कामयाब रहे और प्लेयर ऑफ द मैच के पुरस्कार से भी नवाजे गए।

रुबेल हुसैन और विराट कोहली की नोकझोंक

साल 2011 में वर्ल्ड कप के दौरान विराट कोहली की रूबेल के साथ एक नोकझोंक हो गई थी। फिर रूबेल साल 2015 में कोहली को आउट करते हुए शानदार अंदाज में जश्न मनाते नजर आए। हालांकि भारत इन दोनों मुकाबलों में बांग्लादेश के खिलाफ जीत हासिल कर सका।

हुसैन ने एक फेसबुक लाइव सत्र के दौरान ‌टीम के साथियों तमीम इकबाल और तस्कीन अहमद के साथ उस प्रतिद्वंदिता को स्वीकार किया। इसके साथ-साथ उन्होंने यह भी कहा कि ‘मैं अंडर-19 के दिनों से विराट कोहली के खिलाफ खेलता आ रहा हूं, इसलिए मेरे साथ अंडर-19 के दिनों से ही उनके साथ चीजें चल रही है। अंडर-19 के दिनों में वह बहुत अधिक स्लेजिंग करते थे लेकिन अब यह आसान नहीं रह गया है।’

भारतीय खिलाड़ियों की तस्वीर के साथ किया गया भद्दा खिलवाड़

भारत साल 2015 में एक मैच की टेस्ट सीरीज और तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए बांग्लादेश गया था। जहां ड्रा के रूप में पहला टेस्ट मैच तो समाप्त हो गया। प्रशंसकों द्वारा वनडे सीरीज के दौरान भारत से बेहतर से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन 2-1 से सीरीज जीतकर बांग्लादेश ने सबको आश्चर्यचकित कर दिया। सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान उनके लिए एक स्टार थे।

भीम भेजो में वह 11.54 की औसत से 13 विकेट लेने में कामयाब रहे। सीरीज के बाद मुस्तफिजुर रहमान के साथ एक छेड़छाड़ वाली तस्वीर वायरल की गई। जिसमें उनकी तुलना एक नई के रूप में की जा रही थी, वही भारतीय खिलाड़ी आधे सिर मुड़ाए दिखाई दिए। भारतीय फैंस को बांग्लादेशी फैंस का इस तरह का व्यवहार देखने के बाद जरा भी खुशी नहीं हुई।

एमएस धोनी और मुस्तफिजुर रहमान के बीच विवाद

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और मुस्तफिजुर रहमान भी एक विवादित घटना में उलझते नजर आए रहमान को रास्ते से हटाने के लिए उस समय धोनी ने फॉलो – थ्रू में कोहनी मारी थी। जिसमें बीच में अंपायरों के आने से स्थिति और भी बिगड़ गई दोनों खिलाड़ियों पर मैच के बाद जुर्माना भी लगाया गया।

अधिकारियों की तरफ से भी आधिकारिक बयान जारी किया गया, जिसमें स्पष्ट लिखा था। “पहले वनडे के दौरान भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान पर शासी बोर्ड की क्रिकेट आचार संहिता का उल्लंघन करने का दोषी पाए जाने के बाद क्रमश: मैच फीस का 50 और 75% जुर्माना भरना होगा।”

एशिया कप 2018 में लिटन दास की विवादित स्टंपिंग

साल 2018 एशिया कप के फाइनल के दौरान यह घटना घटित हुई थी, जब बांग्लादेश को भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने के लिए कहा। पारी की शुरुआत करते हुए लिटन दास 117 गेंदों पर 121 रन बनाने में कामयाब रहे। लेकिन एक विवादित स्टंपिंग फैसले के दौरान वह अपने विकेट गंवा बैठे।

भारतीय क्षेत्र रक्षकों द्वारा इसके लिए अपील करते हुए अंतिम कॉल करने के लिए तीसरे अंपायर को बुलाया गया। यह एक टाइट कॉल थी, और टीम इंडिया के पक्ष में फैसला भी खत्म हो गया। अगर मैच की बात की जाए तो भारत यह मैच 5 विकेट से जीतने में कामयाब रहा, और अपने इतिहास में एशिया कप में अपना एक बार फिर से ना कर लिया।

Read Also:-IND vs BAN: ‘लौट आओ स्टुअर्ट बिन्नी’, भारत की करारी हार के बाद फैंस को याद आया ये खिलाड़ी 6/4 लेकर मैच पलट देता था

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *