राहुल द्रविड़ ने बताया क्यों ऋषभ पंत को दिया गया मौका, फ्लॉप होने के बाद क्या सेमीफाइनल में मिलेगा मौका? मुख्य कोच ने किया साफ

आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 ( T20 World Cup 2022) का आखिरी सुपर 12 का मैच भारत बनाम जिम्बाब्वे के बीच खेला गया। इस मैच में टीम इंडिया को 71 रन के बड़े अंतर से जीत मिली। इस जीत के बाद अब सेमीफाइनल के लिए चारों टीम के नाम तय है।

भारत अब टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में इंग्लैंड से भिड़ेगा। जिम्बाब्वे के खिलाफ प्लेइंग 11 में ऋषभ पंत को मौका मिला। जिसपर राहुल द्रविड़ ने कहा ऋषभ पंत को मौका देना महत्वपूर्ण था। रविवार के मैच में ऋषभ पंत विकेटकीपर-बल्लेबाज दिनेश कार्तिक की जगह प्लेइंग इलेवन में शामिल थे। जोकि खिलाड़ी का पहला मैच था।

टॉस जीतकर क्यों चुनी बल्लेबाजी राहुल द्रविड़ ने खोला राज
भारत बनाम जिम्बाब्वे मैच में रोहित शर्मा में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी। इस फैसले के पीछे क्या वजह है राहुल द्रविड़ ने बताया। उन्होंने कहा

“कुछ चीजें जो हम हासिल करना चाहते थे, अगर हमें मौका मिला तो पहले बल्लेबाजी करना चाहते थे। हमें उसके लिए टॉस जीतना था। सिर्फ ईमानदारी से कहूं, तो हमने यहां आने पर पाकिस्तान के खिलाफ पहले गेंदबाजी की थी, हम बस अनुभव करना चाहते थे कि इस तरह की परिस्थितियों में लक्ष्य देना कैसा होता है।”

उन्होंने आगे कहा,

“इसके अलावा, हमने महसूस किया कि अगर हम पहले बल्लेबाजी करते हैं, तो यहाँ हमें 20 ओवर खेलने का मौका मिलेगा और पहले बल्लेबाजी करने के लिए अधिक रन बनाने का रास्ता मिलेगा। वहीं, आज के मैच में ऋषभ पंत को खेलने का मौका देना महत्वपूर्ण था, लेकिन भविष्य को ध्यान में रखते हुए, बस हम विकल्प खोज रहे हैं।”

ऋषभ पंत को समय देना चाहते थे : राहुल द्रविड़
राहुल द्रविड़ ने ऋषभ पंत को दिए गए मौके के विषय में कहा

“हर कोई चयन के लिए उपलब्ध है, सिर्फ इसलिए कि कोई इस मैच से चूक गया, इसका मतलब यह नहीं है कि हम उन्हें मौका नहीं देंगे। हम सिर्फ यह सुनिश्चित करना चाहते थे कि हमारे पास विकल्प खुले हों, जिससे ऋषभ को खेल का समय मिल सके, जो वास्तव में महत्वपूर्ण था।”

आगे मुख्य कोच ने कहा

“यह वास्तव में भूमिका है जब आप कई अन्य विकल्पों में से 15 चुनते हैं। इसका मतलब है कि आपको वास्तव में इस 15 में बहुत अधिक आत्मविश्वास मिला है। हां, आप एक बार में केवल 11 खिलाड़ियों को चुन सकते हैं और कुछ लोग कभी-कभी चूक जाते हैं और उन्हें खेलना नहीं पड़ता।”

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *