2011 वर्ल्ड कप के 5 स्टार खिलाड़ी जो कभी आईपीएल में नहीं खेले

2011 का वनडे वर्ल्ड कप भारत में खेला गया था। भारत ने धोनी की कप्तानी में 28 साल बाद वर्ल्ड कप जीता था। वर्ल्ड क्रिकेट के कुछ बड़े खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। उस वर्ल्ड के कई खिलाड़ी आईपीएल में खेलते हुए दिखाई दे चुके हैं।

तो आज हम आपको उन 5 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे है जो 2011 के वर्ल्ड कप में खेले थे लेकिन आज तक आईपीएल में कभी खेलते हुए नहीं दिखाई दिए है।

1. एंड्रयू स्ट्रॉस (इंग्लैंड)
इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस इस लिस्ट में अपना नाम दर्ज करवाने में सफल हो गए है। बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने 2011 के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की कप्तानी की और टीम को क्वार्टर फाइनल तक पहुंचाया था।

स्ट्रॉस ने वर्ल्ड कप की सात पारियों में 93.55 के स्ट्राइक रेट से 334 रन अपने नाम किये थे। उन्होंने एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारत के खिलाफ ग्रुप स्टेज मैच में 158 रनों की शानदार पारी भी खेली थी।

2. जोनाथन ट्रॉट (इंग्लैंड)
केपटाउन में जन्मे बल्लेबाज जोनाथन ट्रॉट भी 2011 के वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की तरफ से खेलते हुए दिखाई दिए थे। वो 2011 के वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामलें में चौथे स्थान पर थे।

उन्होंने 7 मैचों में 80.84 के स्ट्राइक रेट की मदद से 422 रन बनाये है। इस दौरान उनके बल्ले से 5 अर्धशतक देखने को मिले है। ये शानदार बल्लेबाज कभी आईपीएल नहीं खेला है।

3. उपुल थरंगा (श्रीलंका)
श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर उपुल थरंगा ने 2011 के वन डे वर्ल्ड कप में बेहतरीन लय में दिखाई दिए थे। उन्होंने श्रीलंका को फाइनल तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई थी।

श्रीलंका के इस बल्लेबाज ने 9 मैच खेले थे और 83.68 के स्ट्राइक रेट की मदद से 395 रन बनाये है। इस दौरान उनके बल्ले से 2 शतक और एक अर्धशतक देखने को मिला है। आईपीएल में श्रीलंका के कई स्टार खिलाड़ी हिस्सा ले चुके हैं। हालांकि, थरंगा कभी किसी आईपीएल टीम का ध्यान अपनी ओर खींचने में कामयाब नहीं रहे है।

4. केविन ओ’ब्रायन (आयरलैंड)
आयरलैंड ने 2011 के वर्ल्ड में लीग स्टेज के मैच में इंग्लैंड को हराकर सभी को हैरान कर दिया था। ऑलराउंडर केविन ओ’ब्रायन ने इस जीत में अहम भूमिका निभाई थी। उन्होंने 50 गेंदों में शतक जड़ दिया था।

शतक जड़ने के अलावा ओ’ब्रायन ने गेंदबाजी करते हुए भी लिए चार विकेट अपने नाम किये थे। आईपीएल की नीलामी में ऑलराउंडरों की हमेशा मांग रहती है लेकिन ओ’ब्रायन को कभी खेलने का मौका नहीं मिल पाया।

5. वहाब रियाज (पाकिस्तान)
2011 का वर्ल्ड कप सेमी फाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया था। इस मैच में पाकिस्तानी तेज गेंदबाज वहाब रियाज ने पांच विकेट लिए थे। हालांकि भारत ने यह मैच 29 रन से अपने नाम कर लिया था।

उन्होंने वर्ल्ड कप में 5 मैच खेले थे और 4.66 के इकॉनमी रेट से 8 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई थी। 2011 में रियाज के ज्यादातर टीममेट्स अपने करियर में एक बार आईपीएल में खेले। हालांकि, बाएं हाथ के तेज गेंदबाज कभी भी आईपीएल नहीं खेला।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.