379 रन ठोके,फिर भी पृथ्वी को हर बार सिलेक्टर्स करते है नजर अंदाज, जानिए आखिर क्यों हर बार नहीं मिलती है टीम में जगह

भारत में समय घरेलू लीग यानी कि रणजी ट्रॉफी का आयोजन किया जा रहा है। जहां पर सभी खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से सिलेक्टर्स को अपनी तरफ प्रभावित करने का काम कर रहे हैं। इसी बीच दाएं हाथ के बेहतरीन बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने असम के खिलाफ खेलते हुए आज तिहरा शतक लगाया है। पृथ्वी ने 383 गेंदों का सामना करते हुए 309 रन निकाले हैं।

हालांकि इस दौरान उनके बल्ले से 49 चौके और 4 छक्के भी मिले हैं। पृथ्वी की बेहतरीन पारी को देखने के बाद चारों तरफ सिर्फ एक ही सवाल उठ रहा है कि जब यह खिलाड़ी इतना अच्छा खेलता है। उसे टीम इंडिया में जगह नहीं मिलती है। लेकिन इसके पीछे चार बड़ी वजह भी सामने आई है वह कौन सी वजह है। चलिए बताते हैं।

Read More : हार्दिक पांड्या के साथी का 5 साल बाद शानदार कमबैक,रणजी ट्रॉफी में मुंबई के खिलाफ मचाया तहलका

खराब स्वास्थ्य

पृथ्वी शॉ को टीम इंडिया में नहीं चुने जाने की सबसे बड़ी वजह उनकी खराब फिटनेस बताई जाती है। टीम इंडिया में फिटनेस को काफी ज्यादा तहरीर दी जाती है और पृथ्वी से इस मामले में थोड़ा सा पीछे हैं। उनकी उम्र के दूसरे खिलाड़ी चाहे गिल हो या ईशान किशन हो बेहद फिट है। हालांकि पृथ्वी अपनी फिटनेस पर लगातार काम कर रहे हैं और जब मैं भी खूब पसीना बहा रहे हैं।

खराब फील्डिंग

पृथ्वी का प्रमुख बल्लेबाज है। वह गेंदबाजी नहीं करते ऐसे में उनके लिए फील्डिंग काफी ज्यादा अहम होती है। भारतीय टीम के मैन बल्लेबाजों की फील्डिंग कमाल है और पृथ्वी शॉ इस मामले में भी पीछे हैं। साल 2020 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एडिलेड टेस्ट में उनसे एक महत्वपूर्ण कैच छूट गया था। जिसके बाद उस वक्त के कप्तान विराट कोहली उनसे काफी ज्यादा नाराज हुए थे और पृथ्वी शॉ का आखिरी टेस्ट मैच यह साबित हुआ था।

अनुशासनहीनता है बड़ी वजह

हालांकि पृथ्वी शॉ को टीम इंडिया से बाहर रखने का सबसे बड़ा कारण अनुशासनहीनता भी है। सोशल मीडिया पर अक्सर उनके खिलाफ इस तरह की बातें चलती रहती हैं कि वह अनुशासन का पालन नहीं करते हैं। आप इस बात में कितनी सच्चाई है यह बाकी खिलाड़ी ज्यादा अच्छे से जानते होंगे।

Read More : रणजी ट्रॉफी में धमाल मचाने के लिए पूरी तरह से तैयार है ये खिलाड़ी, युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी से की जाती है तुलना

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *