BCCI के लिए गए यह 3 निर्णय, श्रीलंका के खिलाफ भारत की T20 देख है, समझ से बाहर

IND vs SL : भारत और श्रीलंका के बीच तीन T20 मैचों की सीरीज की शुरुआत 3 जनवरी से होगी, जिसके लिए भारतीय टीम की घोषणा की जा चुकी है। टीम की कमान हार्दिक पांड्या के हाथों में सौंपी गई है। इसके साथ साथ भारतीय टीम में कई युवा खिलाड़ियों को भी चांस दिया गया है। श्रीलंका के खिलाफ चयनित टीम में बीसीसीआई द्वारा कुछ ऐसे फैसले लिए गए, जो समझ से बिल्कुल परे है, आइए जानते हैं क्यों है ऐसे फैसले।

सिर्फ एक फ्रंट लाइन स्पिनर चुना

श्रीलंका के खिलाफ खेली जा रही 3 मैचों की T20 सीरीज के लिए टीम का चयन किया गया है। उस टीम में मात्र एक फ्रंटलाइन स्पिनर का चयन किया गया है जिसका नाम युज़वेंद्र चहल है। चहल के अतिरिक्त कोई और फ्रंट स्पिनर इस टीम में शामिल नहीं किया गया है। सभी मैचों ‌का मुकाबला भारत के साथ है। यहां परिस्थितियां हमेशा से ही स्किन फ्रेंडली रही है। भारतीय चयन समिति द्वारा लिया गया यह निर्णय भारतीय टीम पर संकट पैदा कर सकता है।

पृथ्वी शॉ और जगदीशन जैसे खिलाड़ियों को नहीं मिल सका चांस

इस सीरीज के लिए कई युवा खिलाड़ियों का चयन किया गया है लेकिन अब भी भारत में हो रहे घरेलू क्रिकेट के दौरान कुछ ऐसे खिलाड़ी मौजूद हैं जो भारतीय टीम में लगातार बेहतर प्रदर्शन करते जा रहे हैं लेकिन फिर भी टीम इंडिया में उन्हें जगह नहीं दी जा सके।

5 तेज गेंदबाजों को मिला चांस

BCCI की चयन समिति द्वारा इस सीरीज के लिए 5 तेज गेंदबाज चुने गए हैं। जिसमें शिवम मावी और मुकेश कुमार पहली बार चुनने वाले खिलाड़ियों में शामिल है। लेकिन बीसीसीआई द्वारा भारत में पांच तेज गेंदबाजों को चुनना समझ से बाहर नजर आ रहा है। लेकिन बीसीसीआई द्वारा भारत में पांच गेंदबाज को चलने का कारण किसी को नजर नहीं आ रहा है। क्योंकि भारत में अधिकतम सिर्फ 3 गेंदबाज ही खेलते नजर आएंगे।

बाकी 2 गेंदबाजों को बेंच पर बैठे हुए ही देखा जाएगा। BCCI द्वारा इन तेज गेंदबाजों के रिप्लेस पर मिडिल ऑर्डर के लिए बल्लेबाजों का चयन किया जा सकता था। जिसके चलते वह भारतीय बल्लेबाजों को खास मजबूती प्रदान कर सकते हैं।

Read Also:-टीम इंडिया की इन 3 सबसे बड़ी परेशानियों को अर्जुन तेंदुलकर कर सकते हैं दूर, डेब्यू का जल्द मिलना चाहिए चांस

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *