धोनी एक महान कप्तान लेकिन पोंटिंग के ये रिकॉर्ड को तोड़ने में रहे नाकाम; पढ़ें क्या हैं रिकॉर्ड्स

धोनी एक महान कप्तान लेकिन पोंटिंग के ये रिकॉर्ड को तोड़ने में रहे नाकाम; पढ़ें क्या हैं रिकॉर्ड्स

क्रिकेट जगत में जब भी सफल कप्तानों की चर्चा होती है तो महेंद्र सिंह धोनी और रिकी पोंटिंग का नाम सामने आता है। इन दोनों कप्तानों ने शानदार प्रदर्शन कर अपनी टीम के लिए कई खिताब अपने नाम किए हैं। धोनी ने एशिया कप, आईपीएल और आईसीसी ट्रॉफी जीती हैं। वहीं पोंटिंग ने अपनी टीम को वर्ल्ड कप भी जिताया है.

धोनी और पोंटिंग के अलावा भी कई रिकॉर्ड हैं। लेकिन कुछ रिकॉर्ड ऐसे भी हैं जो धोनी बतौर कप्तान हासिल नहीं कर पाए। पोंटिंग ने अपनी कप्तानी के दौरान कुछ रिकॉर्ड बनाए जिन्हें धोनी नहीं तोड़ पाए। आज हम ऐसे ही कुछ रिकॉर्ड्स देखने जा रहे हैं।

– धोनी के करियर को देखते हुए कप्तानी के तौर पर धोनी की जीत का प्रतिशत 53.78 है। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2007 से 2016 के बीच 331 मैचों में से 178 मैच जीते। वहीं, पोंटिग ने 2002 से 2012 के बीच हुए 324 मैचों में से 220 में जीत हासिल की है। उनका जीत का प्रतिशत 67.90 है।

पोंटिंग वनडे वर्ल्ड कप के रिकॉर्ड में भी धोनी से आगे हैं। धोनी की कप्तानी में भारत ने 2011 से 2015 के बीच वर्ल्ड कप में 17 मैच खेले। इनमें से 14 मैच भारत ने जीते। इस बार उनका जीत का प्रतिशत 85.29 रहा। पोंटिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 29 मैच खेले। उन्होंने इनमें से 26 मैच जीते। उनका जीत का प्रतिशत 92.85 रहा।

– विदेशी दौरों में टेस्ट रिकॉर्ड के मामले में भी पोंटिंग सबसे आगे हैं। 2009 से 2014 के बीच भारत ने धोनी के नेतृत्व में विदेशी सरजमीं पर 30 टेस्ट मैच खेले। इनमें से छह मैच भारत ने जीते। इस बार भारत का जीत प्रतिशत 24 प्रतिशत रहा। वहीं, पोंटिंग की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने 2004 से 2010 के बीच 38 मैच खेले। इनमें से 19 मैचों में उन्हें जीत मिली है। इस बार ऑस्ट्रेलिया का जीत प्रतिशत 50 प्रतिशत रहा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.