ऋषभ पंत ने हार्दिक को बचाने के लिए खुद के विकेट का दिया बलिदान, उनके इस कारनामे ने करोड़ों क्रिकेट फैंस का जीता दिल

टी20 वर्ल्ड कप 2022 के दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की शूरूआत कुछ खास नहीं रही और महज 56 की स्कोर पर ही टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज पवेलियन लौट गये। इस अहम मुकाबले के लिए दिनेश कार्तिक की जगह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को मौका दिया गया है।

हालांकि उन्हें जिम्बाब्वे के खिलाफ सुपर-12 के आखिरी मुकाबले में भी टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन में मौका दिया गया था जहां उनके बल्ले ने निराश ही किया। लेकिन आज के इस सेमीफाइनल मुकाबले में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) भले ही एक बार फिर रन बनाने में नाकाम हुए हो लेकिन उन्होंने अपनी पारी के दौरान कुछ ऐसा किया जिससे टीम इंडिया इंग्लैंड के सामने 168 रनों का लक्ष्य रखने में कामयाब हो पायी।

पंत ने किया अहम काम
एडिलेजड ओवल में खेला जा रहा दूसरा सेमीफाइनल मुकाबला काफी रोमांचक चल रहा है। भारतीय पारी के आखिरी ओवर के दौरान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अपना विकेट गवांकर हार्दिक पांड्या को एक जीवनदान दिया। उनके इस बलिदान की वजह से ही टीम इंडिया इंग्लैंड के सामने 168 रनों का लक्ष्य रखने में कामयाब रही।

दरअसल आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर क्रिस जॉर्डन की आउटसाइड ऑफ पर फेंके गये यॉर्कर पर पंत गेंद पर ठीक से बल्ला नहीं लगा सके, लेकिन तबतक हार्दिक पांड्या रन लेने के लिए आधी पिच कवर कर चुके थे। हार्दिक पांड्या को आउट होने से बचाने के लिए ऋषभ पंत (Rishabh Pant) रन के लिए भागे और रन आउट हो गये।

पांड्या के लिए दिया अपना बलिदान
क्रिस जॉर्डन की तीसरी गेंद पर ऋषभ पंत का बल्ला गेंद से सही तरीके से नहीं लग पाया, लेकिन हार्दिक पांड्या तब तक रन के लिए आधी पिच पर भाग चुके थे। बता दें कि हार्दिक पांड्या ने इस मुकाबले में अर्धशतकीय पारी खेली, और काफी अच्छे फॉर्म में चल रहे थे।

पांड्या का विकेट बचाने के लिए ऋषभ पंत रन के लिए दूसरी तरफ भागे लेकिन क्रिज तक पहुंचने में असफल रहे और जॉर्डन तब तक उन्हें रन आउट कर चुके थे। पंत को जिम्बाब्वे के खिलाफ सुपर-12 मुकाबले के बाद सेमीफाइनल में दूसरी बार मौका दिया गया। भले ही उन्होंने इस मैच में महज 6 ही रन बनाये हो लेकिन उनका अपना विकेट गवां कर हार्दिक पांड्या को बचाने के फैसले ने फैंस का दिल जीत लिया।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *