“जब तक रोहित शर्मा और विराट कोहली भारतीय टीम में हैं हम कोई टूर्नामेंट नही जीत सकते” भड़का ये बॉलीवुड अभिनेता

“जब तक रोहित शर्मा और विराट कोहली भारतीय टीम में हैं हम कोई टूर्नामेंट नही जीत सकते” भड़का ये बॉलीवुड अभिनेता

इंग्लैंड से सेमीफाइनल में हारने के बाद भारत टी-ट्वेंटी विश्व कप से बाहर हो गया है. इस हार के बाद से अलग-अलग सेलिब्रिटीज भारतीय टीम पर अलग-अलग आरोप लगा रहे हैं. बाॅलीवुड के एक भूतपूर्व एक्टर हैं ( भूतपूर्व इसलिए क्योंकि अब इन्हें काम मिलता नही) नाम है कमाल आरोप ख़ान, शार्ट में केआरके.

केआरके ने हाल में ही अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो डाला है, जहाँ उन्होंने रोहित शर्मा और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों पर वाहियात टिप्पणी की है. आप भी पढ़े कमाल आर ख़ान ने क्या कहा है.

कोहली और रोहित काबिल नही
अपने वीडियो के शुरूआत में कमाल आर ख़ान कहते हैं कि,

‘मेरा मानना है कि कोहली, रोहित, राहुल, भुवनेश्वर, अश्विन ये लोग टी-20 मैच खेलने के काबिल नहीं हैं. ये लोग टी-20 टूर्नामेंट जीतने के काबिल नहीं हैं. वास्तव में टीम में इनकी जगह ही नहीं बनती थी. टीम इंडिया का कैप्टन होना चाहिए था हार्दिक और बाकी के जो यंग खिलाड़ी हैं उन्हें टीम में होना चाहिए था जैसे कि संजू सैमसन. जब केएल राहुल और रोहित शर्मा बैटिंग करने आए थे तब इन दोनों की ही पिंडलियां कांप रही थीं कि क्या होगा. केएल राहुल जल्दी आउट हो गए इसके बाद बैटिंग करने आए कोहली. सच बात तो ये है कि विराट कोहली की भी पिंडलियां कांप रही थीं, क्योंकि वो किसी भी बड़े मैच में परफॉर्म नहीं करता है. प्रेशर वाला गेम खेलने के लिए जिगरा चाहिए जो इन खिलाड़ियों के पास है नहीं.’

कोहली के वजह से 30 रन का नुकसान हो गया
आगे केआरके साहब कहते हैं कि,

‘कोहली भाई ने 40 गेंद पर बनाए 50 रन लेकिन उसे कम से कम 80 रन बनाना चाहिए था. उसकी वजह से 30 रनों का टीम को नुकसान हो गया. इसी तरह रोहित ने भी 20 रन कम बनाए. इन दोनों ने ही टीम को बर्बाद कर दिया था 50 रन कम बनाकर. विराट कोहली को खेलते हुए देखकर तो ऐसा लग रहा था कि वो सिर्फ 50 रन ही बनाने के लिए खेल रहा था. पाकिस्तान ने जैसे ही सेमीफाइल में प्रवेश किया वैसे इस बात ने जोर पकड़ लिया कि वर्ल्डकप में जो भी हो रहा है वो स्क्रिप्ट के हिसाब से हो रहा है. किसको जीताना है किसको हराना है ये सब आईसीसी डिसाइड कर रही है. इसी स्क्रिप्ट के हिसाब से पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंची तो फिर उन्हें भारत को तो फाइनल पहुंचाना ही है. ऐसे में आईसीसी को बहुत ज्यादा फायदा होता.’

अंत में उन्होंने कहा कि,

‘ऐसे में दुनियाभर के जो क्रिकेटप्रेमी हैं उनको ये यकीन हो चुका था कि भारत-पाक का ही फाइनल होगा. यानी की इंडिया, इंग्लैंड के खिलाफ आसानी से मुकाबला जीत जाएगी. लेकिन,मैच फिक्स नहीं था और टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा.’

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *