IND VS BAN: ‘पता नहीं ऐसा क्यों होता है, हम भारत के खिलाफ जीत के करीब पहुंच के हार जाते हैं’, हार के बाद भर आई शाकिब अल हसन की आंखे

IND VS BAN: ‘पता नहीं ऐसा क्यों होता है, हम भारत के खिलाफ जीत के करीब पहुंच के हार जाते हैं’, हार के बाद भर आई शाकिब अल हसन की आंखे

भारत बनाम बांग्लादेश (IND VS BAN) मैच में टीम इंडिया को 5 रन से जीत मिली। आईसीसी टी20 विश्व कप की सेमीफाइनल के लिए टीम इंडिया की ये बहुत जरूरी जीत थी। बांग्लादेश टीम भी इस रेस ने अभी तक पूरी तरह बनी हुई थी। भारत और बांग्लादेश दोनों ही टीम के लिए ये मैच काफी जरूरी मैच था।

टीम इंडिया से हार के बाद कप्तान शाकिब अल हसन ने भारत से अगर जीतते तो वो सर्वश्रेष्ठ होता ये बात कही है। साथ ही आगे के मैच में जीत पर ध्यान देने की बात भी कही।

आखिर में मैच किसी पक्ष में हो सकता था : शाकिब अल हसन
भारत बनाम बांग्लादेश मैच में टीम इंडिया ने टॉस हारने के बाद 20 ओवर्स में 6 विकेट खोकर 184 रन बनाए। दूसरी मैच में बीच पारी में बारिश के बाद खेल रुका और बांग्लादेश को 151 का लक्ष्य मिला। इसके बाद भारतीय टीम की बेहद जोरदार गेंदबाजी के बाद बांग्लादेश को 5 रन से हार मिली। हालांकि आखिर में बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने खेल का लुत्फ उठाया।

कप्तान शाकिब अल हसन ने कहा

“यह कहानी रही है जब हम भारत के खिलाफ खेलते हैं, हम लगभग वहां होते हैं, लेकिन हम लाइन खत्म नहीं करते हैं। दोनों टीमों ने इसका लुत्फ उठाया, यह शानदार खेल था और हम यही चाहते थे। अंत में किसी को जीतना है और किसी को हारना है”।

लिटन दास हमारा सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है : शाकिब अल हसन
कप्तान शाकिब अल हसन ने लिटन दास की काफी तारीफ की। उन्होंने कहा

“वह [लिटन दास] हमारा सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज है। जिस तरह से उन्होंने पावरप्ले में बल्लेबाजी की, उससे हमें काफी गति मिली और हमें विश्वास दिलाया कि हम यहां शॉर्ट बाउंड्री के साथ इसका पीछा कर सकते हैं। भारत के टॉप फोर पर नजर डालें, तो वे बेहद खतरनाक हैं। हमारी योजना उन 4 को हासिल करने की थी और इसलिए हमने तास्कीन को बोल्ड किया। दुर्भाग्य से उसने विकेट नहीं लिए, लेकिन वह बहुत किफायती था। ज्यादा नहीं, हम इस विश्व कप में बहुत आराम से और क्रिकेट के बारे में ज्यादा बात नहीं कर रहे हैं। हमें एक और मैच खेलना है और हम उस पर ध्यान देना चाहते हैं”।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *